TGT PGT Hindi – 24

  • Post category:Hindi

टीजीटी पीजीटी हिन्दी ऑनलाइन टेस्ट, TGT PGT हिन्दी , हिन्दी साहित्य , UPSI Hindi , UPPSC हिन्दी , फ्री ऑनलाइन टेस्ट , हिन्दी क्विज , Hindi online test , Hindi Online Test For TGT – PGT , हिन्दी टेस्ट सीरीज , हिन्दी Mock Test

टेस्ट की जानकारी

यह टेस्ट टीजीटी पीजीटी हिन्दी और सरकारी परीक्षाओं के लिए उपयोगी है , इस टेस्ट में शामिल प्रश्नों के सही उत्तर आपको टेस्ट समाप्त होने के बाद स्वतः ही मिल जायेंगे ! टेस्ट प्रारंभ करने के लिए स्टार्ट टेस्ट बटन पर टैप करें !

प्रमुख प्रश्न सूची

मैला आंचल किस प्रकार का उपन्यास है

आवारा मसीहा किस उपन्यासकार की जीवनी से संबंधित है

चतुरी चमार उपन्यास है

श्रीलाल शुक्ल के उपन्यास राग दरबारी का रंगनाथ की वापसी शीर्षक से नाट्यांतर किसने किया है

राग दरबारी के रचनाकार का नाम है

सरकटी लाश उपन्यास के लेखक हैं

पराधीन जो जन नहीं स्वर्ग नरक ता हेतु। पराधीन जो जन नहीं स्वर्ग नरक ता हेतु।। उपर्युक्त पंक्तियों में अलंकार है

तरनि तनूजा तट तमाल तरुवर बहु छाए। झुके कूल सो जल परसन हित मनहुं सुहाए।। उपर्युक्त पंक्तियों में अलंकार है

सूर सूर तुलसी ससी उड़गन केशवदास अब के कवि का खद्योत सम जहँतहँ करत प्रकास। इन पंक्तियों में किस अलंकार का प्रयोग हुआ है

तरणि के ही संग तरल तरंग में तरणि डूबी थी तरणि के ही संग तरल तरंग में तरणि डूबी थी हमारी ताल में। इसमें प्रयुक्त अलंकार है

झूला नट उपन्यास की रचनाकार हैं

श्रीलाल शुक्ल की रचना है

चाक उपन्यास की लेखिका है

कठ गुलाब किसकी रचना है

निम्नलिखित में से कौन सी रचना धर्मवीर भारती की नहीं है

इनमें से कौन सी रचना धर्मवीर भारती की नहीं है

किन दो साहित्यकारों ने अर्धनारीश्वर नाम से रचना की है

रूपांवरा किसकी रचना है

हरी घास पर क्षण भर शीर्षक काव्य संकलन के रचयिता हैं

अज्ञेय की असाध्य वीणा किस प्रकार की काव्यकृति है

कनककनककनक ते सौ गुनी मादकता अधिकाय में कौन सा अलंकार है

जहां शब्दों शब्दांशो या वाक्यांशों की आवृत्ति हो किंतु उनके अर्थ भिन्न हो वहां निम्न अलंकार होता है

जननी तू जननी भई विधि सन कछु न बसाय में कौन सा अलंकार है

जहां वर्णों की आवृत्ति बारबार होती है उसमें कौन सा अलंकार होता है

राम हृदय जाके नहीं विपति सुमंगल ताहि। राम हृदय जाके नहीं विपति सुमंगल ताहि।। इसमें कौन सा अनुप्रास है

अज्ञेय की रचना है

सागर मुद्रा के लेखक हैं

किस काव्यकृति पर अज्ञेय को ज्ञानपीठ पुरस्कार प्राप्त हुआ था

निम्नांकित में से कौनसा काव्य संग्रह अज्ञेय का नहीं है

सो सुख सुजस सुलभ मोहि स्वामी में कौन सा अलंकार है 

97

TGT PGT Hindi

Hindi TGT PGT- 24

हिन्दी विषय के प्रश्नों का ऑनलाइन टेस्ट

30 प्रश्न सही उत्तरों के साथ

टेस्ट देने के लिए Start बटन पर टैप करें

1 / 30

तरणि के ही संग तरल तरंग में तरणि डूबी थी हमारी ताल में। इसमें प्रयुक्त अलंकार है

2 / 30

निम्नांकित में से कौनसा काव्य संग्रह अज्ञेय का नहीं है

3 / 30

सागर मुद्रा के लेखक हैं

4 / 30

कठ गुलाब किसकी रचना है

5 / 30

सूर सूर तुलसी ससी उड़गन केशवदास अब के कवि का खद्योत सम जहँतहँ करत प्रकास। इन पंक्तियों में किस अलंकार का प्रयोग हुआ है

6 / 30

मैला आंचल किस प्रकार का उपन्यास है

7 / 30

किस काव्यकृति पर अज्ञेय को ज्ञानपीठ पुरस्कार प्राप्त हुआ था

8 / 30

अज्ञेय की रचना है

9 / 30

जहां शब्दों शब्दांशो या वाक्यांशों की आवृत्ति हो किंतु उनके अर्थ भिन्न हो वहां निम्न अलंकार होता है

10 / 30

इनमें से कौन सी रचना धर्मवीर भारती की नहीं है

11 / 30

श्रीलाल शुक्ल के उपन्यास राग दरबारी का रंगनाथ की वापसी शीर्षक से नाट्यांतर किसने किया है

12 / 30

जहां वर्णों की आवृत्ति बारबार होती है उसमें कौन सा अलंकार होता है

13 / 30

तरनि तनूजा तट तमाल तरुवर बहु छाए। झुके कूल सो जल परसन हित मनहुं सुहाए।। उपर्युक्त पंक्तियों में अलंकार है

14 / 30

सो सुख सुजस सुलभ मोहि स्वामी में कौन सा अलंकार है

15 / 30

राग दरबारी के रचनाकार का नाम है

16 / 30

किन दो साहित्यकारों ने अर्धनारीश्वर नाम से रचना की है

17 / 30

आवारा मसीहा किस उपन्यासकार की जीवनी से संबंधित है

18 / 30

रूपांवरा किसकी रचना है

19 / 30

जननी तू जननी भई विधि सन कछु न बसाय में कौन सा अलंकार है

20 / 30

चतुरी चमार उपन्यास है

21 / 30

श्रीलाल शुक्ल की रचना है

22 / 30

पराधीन जो जन नहीं स्वर्ग नरक ता हेतु। पराधीन जो जन नहीं स्वर्ग नरक ता हेतु।। उपर्युक्त पंक्तियों में अलंकार है

23 / 30

कनककनक ते सौ गुनी मादकता अधिकाय में कौन सा अलंकार है

24 / 30

चाक उपन्यास की लेखिका है

25 / 30

अज्ञेय की असाध्य वीणा किस प्रकार की काव्यकृति है

26 / 30

निम्नलिखित में से कौन सी रचना धर्मवीर भारती की नहीं है

27 / 30

सरकटी लाश उपन्यास के लेखक हैं

28 / 30

झूला नट उपन्यास की रचनाकार हैं

29 / 30

हरी घास पर क्षण भर शीर्षक काव्य संकलन के रचयिता हैं

30 / 30

राम हृदय जाके नहीं विपति सुमंगल ताहि। राम हृदय जाके नहीं विपति सुमंगल ताहि।। इसमें कौन सा अनुप्रास है

टेस्ट का रिजल्ट देखने के लिए कृपया अपना नाम भरें !

Your score is

0%